Friday, June 25, 2021
BREAKING
आप नेता चंदर मुखी शर्मा ने मुफ्त पौधारोपण अभियान शुरू किया; 1.11 लाख पौधे बांटे जाएंगे प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ फसलों का बीमा करवाने के लिए हरियाणा सरकार ने आगामी 31 जुलाई 2021 तक समय-सीमा बढ़ा दी है संत शिरोमणि सदगुरु भक्त कबीर दास की ‘वाणी’ समाज सुधार और ईश्वर भक्ति का ऐसा अद्भूत संगम है जिसे सदियों तक बार-बार दोहराया जाएगा: दुष्यंत चौटाला 27 जून, 2021 को प्रदेश के 13 जिलों में पोलियो उच्च जोखिम वाले क्षेत्रों में पोलियो उप-राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस (एसटीआईडी) के रूप में मनाएगा किसानों की आय बढ़ाने के लिए फसलों का विविधिकरण किया जाना बहुत जरूरी: जेपी दलाल सरकारी कॉलेजों के स्टॉफ को ग्रीष्मावकाश-2021 के दौरान किए गए कार्यों की एवज में अर्जित अवकाश का लाभ लेने के लिए प्रमाण देने होंगे ओलंपिक क्वालीफाई करने वाले 121 भारतीय खिलाडिय़ों में 30 हरियाणा से होना गर्व की बात: संदीप सिंह मुख्यमंत्री द्वारा भगत कबीर चेयर की स्थापना करने और भगत कबीर भवन के लिए 10 करोड़ रुपए का ऐलान मुख्यमंत्री द्वारा कर्मचारियों की शिकायतों के निपटारे के लिए मंत्रियों की निगरान कमेटी का गठन मुख्य सचिव द्वारा कोविड टीकाकरण से वंचित स्वास्थ्य कर्मियों और पारिवारिक सदस्यों को वैक्सीन लगाने के आदेश

उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री ने उ0प्र0 भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की आपदा राहत सहायता योजना के अन्तर्गत 230 करोड़ रु0 की धनराशि का आॅनलाइन हस्तान्तरण किया

June 10, 2021 08:42 AM
योजना के तहत 23 लाख से अधिक निर्माण श्रमिकों को 1000 रुपये का हितलाभ प्रदान किया गया
 
मुख्यमंत्री ने उ0प्र0 राज्य सामाजिक सुरक्षा बोर्ड में असंगठित क्षेत्र के कामगारों के पंजीकरण हेतु ूूूण्नचेेइण्पद पोर्टल का शुभारम्भ किया
 
प्रदेश सरकार किसानों, श्रमिकों, युवाओं, कामगारों आदि के हितों को सुरक्षित रखने के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है: मुख्यमंत्री
 
कोरोना के खिलाफ देश की लड़ाई को आगे बढ़ाने में श्रमिकों ने महत्वपूर्ण योगदान दिया
 
श्रमिकों के परिश्रम और पुरुषार्थ के माध्यम से प्रधानमंत्री जी के आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को साकार करने में मदद मिल रही
 
राज्य सरकार का श्रमिकों के हितों में संचालित माॅडल एक लोकप्रिय माॅडल के रूप में देश के सामने आया
 
कोरोना की द्वितीय लहर के दौरान भी उद्योग-धन्धों को कोरोना प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए संचालित किया गया
 
प्रदेश सरकार द्वारा श्रमिकों के हितों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही हैं
 
प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में संगठित व असंगठित क्षेत्र के सभी कामगार श्रमिकों को 02 लाख रु0 की सामाजिक सुरक्षा गारण्टी दी जा रही है, 05 लाख रु0 तक का स्वास्थ्य बीमा कवर भी दिया जा रहा
 
उ0प्र0 देश के उन चुनिन्दा राज्यों मंे से एक जिसने राशन कार्ड को नेशनल पोर्टिबिलिटी के साथ जोड़ा
 
मुख्यमंत्री ने 05 श्रमिकों को 1000-1000 रु0 का प्रतीकात्मक चेक प्रदान किया
 
मुख्यमंत्री ने हमीरपुर, वाराणसी, कानपुर, मेरठ तथा झांसी के श्रमिकों से वर्चुअल संवाद किया

सिटी दर्पण ब्युरो, लखनऊ, 9 जूनः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों, श्रमिकों, युवाओं, कामगारों आदि के हितों को सुरक्षित रखने के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है। कोरोना के खिलाफ देश की लड़ाई को आगे बढ़ाने में श्रमिकों ने महत्वपूर्ण योगदान दिया। उन्होंने कहा कि श्रमिकों के परिश्रम और पुरुषार्थ के माध्यम से प्रधानमंत्री जी के आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को साकार करने में मदद मिल रही है।

मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर कोविड-19 के दृष्टिगत उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की आपदा राहत सहायता योजना के अन्तर्गत 230 करोड़ रुपये की धनराशि का आॅनलाइन हस्तान्तरण किए जाने के पश्चात् अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। इस योजना के तहत 23 लाख से अधिक निर्माण श्रमिकों को 1000 रुपये का हितलाभ प्रदान किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने उत्तर प्रदेश राज्य सामाजिक सुरक्षा बोर्ड में असंगठित क्षेत्र के कामगारों के पंजीकरण हेतु ूूूण्नचेेइण्पद पोर्टल का शुभारम्भ भी किया।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना की प्रथम लहर के दौरान श्रमिकों एवं कामगारों के हितों को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री जी ने गरीब कल्याण पैकेज की घोषणा की थी। उसी दौरान प्रदेश सरकार ने श्रमिकों एवं कामगारों के हितों के लिए उत्तर प्रदेश कामगार और श्रमिक (सेवायोजन एवं रोजगार) आयोग का गठन किया। यह आयोग श्रमिकों के हितों को संरक्षित करने और उन्हें रोजगार प्रदान करने की दिशा में कार्य कर रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा श्रमिकों एवं कामगारों के हितों के लिए किये गये कार्याें की चर्चा अनेक देशों में हो रही है। राज्य सरकार का श्रमिकों के हितों में संचालित यह माॅडल एक लोकप्रिय माॅडल के रूप में देश के सामने आया। इस माॅडल पर अनेक बड़ी संस्थाओं द्वारा शोध किया जा रहा है। कोरोना की द्वितीय लहर के दौरान प्रदेश में उद्योग-धन्धों को कोरोना प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए संचालित किया गया। इस अवधि में प्रदेश की 119 चीनी मिलों को सफलतापूर्वक संचालित किया गया है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा श्रमिकों के हितों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही हैं। श्रमिकों की पुत्रियों के विवाह हेतु उ0प्र0 भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा संचालित ‘कन्या विवाह सहायता योजना’ के तहत उन्हें लाभान्वित किया जा रहा है। निर्माण श्रमिकों के बच्चों की शिक्षा तथा स्वास्थ्य, हर स्तर पर राज्य सरकार मदद कर रही है। प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में संगठित व असंगठित क्षेत्र के सभी कामगार श्रमिकों को 02 लाख रुपये की सामाजिक सुरक्षा गारण्टी दी जा रही है। किसी भी श्रमिक के साथ दुर्घटना होती है तो उसके परिजनों को यह धनराशि उपलब्ध करायी जाती है। इसी प्रकार उन्हें 05 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा कवर भी दिया जा रहा है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वर्तमान में पूरी दुनिया कोविड-19 से त्रस्त है। पिछले वर्ष कोरोना के कारण 40 लाख से अधिक श्रमिक/कामगार विभिन्न राज्यों से उत्तर प्रदेश में आए थे। सभी के लिए ड्राई राशन की व्यवस्था की गयी। इसके साथ ही कम्युनिटी किचन के माध्यम से लोगों को भोजन उपलब्ध कराया गया। विगत वर्ष जब लाॅकडाउन लगा था तो श्रमिक वर्ग सबसे अधिक प्रभावित हुआ था। राज्य सरकार ने अभियान चलाकर जरूरतमन्द व्यक्तियों का राशन कार्ड बनाने का कार्य किया। गत वर्ष लाॅकडाउन के दौरान राशन कार्ड न होने पर भी प्रत्येक जरूरतमन्द को 15 दिन का राशन प्रदान किया गया। इसी के साथ, उनके राशन कार्ड बनाने की कार्यवाही भी की गयी। साथ ही, देश में किसी भी अन्य स्थान पर राशन उपलब्ध कराने के लिए राशन कार्ड को नेशनल पोर्टिबिलिटी के साथ जोड़ा गया। उत्तर प्रदेश देश के उन चुनिन्दा राज्यों में है जिसने यह व्यवस्था लागू की है। यह व्यवस्था श्रमिकों के हितों को ध्यान में रखकर बनायी गयी योजनाओं का परिणाम है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना का संक्रमण कमजोर हुआ है, लेकिन समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए कोरोना के तहत बरती जाने वाली सभी सावधनियां अभी भी रखने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री जी ने कोरोना महामारी से दिवंगत हुए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने श्रमिक श्री साजन रावत, श्री मुन्ना लाल, मोहम्मद शरीक, श्री राम जीवन तथा श्री लोकेन्द्र नारायण को 1000-1000 रुपये का प्रतीकात्मक चेक प्रदान किया।
कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री जी ने हमीरपुर के श्रमिक श्री अतुल खरे, जनपद वाराणसी के श्रमिक श्री मिथलेश कुमार, कानपुर के श्रमिक श्री प्रवीण मिश्र, मेरठ के श्रमिक श्री कुलदीप कुमार तथा झांसी के श्रमिक श्री राशिद अली से वर्चुअल संवाद किया। संवाद के दौरान मुख्यमंत्री जी ने उनका कुशलक्षेम पूछा तथा उनसे कहा कि वे सभी निर्माण श्रमिकों को पोर्टल पर पंजीकरण के लिए प्रेरित करें। श्रमिकों ने बताया कि सरकार द्वारा संचालित अनेक योजनाओं का लाभ उन्हें मिल रहा है।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए श्रम एवं सेवायोजन मंत्री श्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने कुशल मार्गदर्शन में श्रम विभाग लगातार उल्लेखनीय कार्य कर रहा है। राज्य सरकार की प्राथमिकता है कि समाज के अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को शासन की सभी योजनाओं का लाभ बिना भेदभाव के मिले। सरकार की मंशा है कि कमजोर से कमजोर व्यक्ति को समाज के विकास में सहभागी बना सके। उन्होंने कहा कि श्रमिकों एवं कामगारों के लिए राज्य सरकार द्वारा अनेक योजनाएं संचालित की जा रही है।
इस अवसर पर वित्त मंत्री श्री सुरेश खन्ना, औद्योगिक विकास मंत्री श्री सतीश महाना, पंचायतीराज मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह चैधरी, श्रम एवं सेवायोजन (राज्यमंत्री) श्री मनोहर लाल ‘मन्नू कोरी’, मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी, कृषि उत्पादन आयुक्त श्री आलोक सिन्हा, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव श्रम श्री सुरेश चन्द्रा, अपर मुख्य सचिव गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव सूचना एवं एम0एस0एम0ई0 श्री नवनीत सहगल, इण्डियन बैंक के क्षेत्रीय महाप्रबन्धक श्री रविन्द्र सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment

और उत्तर प्रदेश समाचार

मुख्यमंत्री ने ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ की नीति के अनुरूप कोविड-19 से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को प्रभावी ढंग से जारी रखने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ की नीति के अनुरूप कोविड-19 से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को प्रभावी ढंग से जारी रखने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने ऑनलाइन स्वरोजगार संगम कार्यक्रम के तहत ऑनलाइन ऋण मेले में 31,542 एम0एस0एम0ई0 इकाइयों को 2505.58 करोड़ रु0 का ऋण वितरण किया

मुख्यमंत्री ने ऑनलाइन स्वरोजगार संगम कार्यक्रम के तहत ऑनलाइन ऋण मेले में 31,542 एम0एस0एम0ई0 इकाइयों को 2505.58 करोड़ रु0 का ऋण वितरण किया

मुख्यमंत्री ने डाॅ0 श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी

मुख्यमंत्री ने डाॅ0 श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी

मुख्यमंत्री ने कोरोना से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को सुदृढ़ बनाए रखने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने कोरोना से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को सुदृढ़ बनाए रखने के निर्देश दिए

योग केवल आसनों का समुच्चय नहीं, बल्कि यह जीवन की एक पद्धति है: मुख्यमंत्री

योग केवल आसनों का समुच्चय नहीं, बल्कि यह जीवन की एक पद्धति है: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने 7वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं

मुख्यमंत्री ने 7वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं

संक्रमण की चेन को तोड़ने तथा प्रदेशवासियों को सुरक्षा कवच प्रदान करने के लिए कोविड वैक्सीनेशन कार्य तेजी से संचालित किया जाएः योगी आदित्यनाथ

संक्रमण की चेन को तोड़ने तथा प्रदेशवासियों को सुरक्षा कवच प्रदान करने के लिए कोविड वैक्सीनेशन कार्य तेजी से संचालित किया जाएः योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री ने ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ पॉलिसी को प्रभावी ढंग से जारी रखने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ पॉलिसी को प्रभावी ढंग से जारी रखने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने 69000 सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया के रिक्त पदों एवं अनुसूचित जाति वर्ग के  पूर्व के रिक्त पदों पर भर्ती की कार्यवाही को समयबद्ध ढंग से पूर्ण करने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने 69000 सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया के रिक्त पदों एवं अनुसूचित जाति वर्ग के पूर्व के रिक्त पदों पर भर्ती की कार्यवाही को समयबद्ध ढंग से पूर्ण करने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने सुविख्यात धावक श्री मिल्खा सिंह के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया

मुख्यमंत्री ने सुविख्यात धावक श्री मिल्खा सिंह के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया