Friday, June 25, 2021
BREAKING
आप नेता चंदर मुखी शर्मा ने मुफ्त पौधारोपण अभियान शुरू किया; 1.11 लाख पौधे बांटे जाएंगे प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ फसलों का बीमा करवाने के लिए हरियाणा सरकार ने आगामी 31 जुलाई 2021 तक समय-सीमा बढ़ा दी है संत शिरोमणि सदगुरु भक्त कबीर दास की ‘वाणी’ समाज सुधार और ईश्वर भक्ति का ऐसा अद्भूत संगम है जिसे सदियों तक बार-बार दोहराया जाएगा: दुष्यंत चौटाला 27 जून, 2021 को प्रदेश के 13 जिलों में पोलियो उच्च जोखिम वाले क्षेत्रों में पोलियो उप-राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस (एसटीआईडी) के रूप में मनाएगा किसानों की आय बढ़ाने के लिए फसलों का विविधिकरण किया जाना बहुत जरूरी: जेपी दलाल सरकारी कॉलेजों के स्टॉफ को ग्रीष्मावकाश-2021 के दौरान किए गए कार्यों की एवज में अर्जित अवकाश का लाभ लेने के लिए प्रमाण देने होंगे ओलंपिक क्वालीफाई करने वाले 121 भारतीय खिलाडिय़ों में 30 हरियाणा से होना गर्व की बात: संदीप सिंह मुख्यमंत्री द्वारा भगत कबीर चेयर की स्थापना करने और भगत कबीर भवन के लिए 10 करोड़ रुपए का ऐलान मुख्यमंत्री द्वारा कर्मचारियों की शिकायतों के निपटारे के लिए मंत्रियों की निगरान कमेटी का गठन मुख्य सचिव द्वारा कोविड टीकाकरण से वंचित स्वास्थ्य कर्मियों और पारिवारिक सदस्यों को वैक्सीन लगाने के आदेश

हरियाणा

कोविड मरीजों के लिए टॉसिलिजुम्ब इंजेक्शन के वितरण के संबंध में दिशा-निर्देश जारी

May 06, 2021 07:40 AM

सिटी दर्पण ब्युरो, हरियाणा , 5 मईः  हरियाणा सरकार ने सार्वजनिक या निजी स्वास्थ्य संस्थानों में दाखिल कोविड मरीजों के लिए स्वीकृत साक्ष्य के आधार पर टॉसिलिजुम्ब इंजेक्शन के वितरण के संबंध में दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इन दिशानिर्देशों के अनुसार जिन कोविड अस्पतालों को कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए टॉसिलिज़ुम्ब की आवश्यकता होगी, उन्हें इस दवा के वितरण का निर्णय लेने के लिए गठित की गई विशेषज्ञ समिति को ई-मेल पर इस दवा के लिए आग्रह करना होगा।

      एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि  इन दिशानिर्देशों के अनुसार, कोई भी डॉक्टर या अस्पताल कहीं से भी टॉसिलिजुम्ब की खरीद के लिए प्रिस्क्रीप्शन जारी नहीं करेगा, क्योंकि दवा का वितरण सरकार द्वारा नियंत्रित है। आवेदन प्रोफार्मा के अनुसार करना होगा और अधूरे एवं प्रोफार्मा के बिना भेजे गए आवेदन पर विचार नहीं किया जाएगा। उन्होंनेे बताया कि तकनीकी समिति प्रतिदिन दो बार सुबह 10-11 बजे और शाम को 4-5 बजे वर्चुअल या डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से बैठक करेगी। प्रवक्ता ने बताया कि निदेशक स्वास्थ्य सेवाएं (डीएचएस), एमएसडी बैठक बुलाएंगे और तकनीकी समिति के साथ समन्वय स्थापित करके तेजी से निर्णय लेने की सुविधा प्रदान करेंगे क्योंकि यही समय की मांग है।  इसके अतिरिक्त, वे अनुमोदन से लेकर संबंधित अस्पताल में दवा की डिलीवरी तक दवा के समग्र प्रबंधन की निगरानी भी करेंगे।

    उन्होंनेे बताया कि सभी प्राप्त आवेदनों की जांच की जाएगी। इसके अलावा, प्रत्येक बैठक के निर्णय से सभी हितधारकों को अवगत कराया जाएगा और निर्णय को स्वास्थ्य विभाग की वेबसाइट पर प्रदर्शित भी किया जाएगा। उन्होंनेे बताया कि अनुमोदित आवेदक अस्पताल को इंजेक्शन की कीमत संबंधित सिविल सर्जन के पास जमा करवानी होगी। दवा देने से इनकार करने के मामले में इनकार करने के कारणों को लिखा जाएगा और अपेक्षित अस्पतालों / चिकित्सकों को सूचित किया जाएगा। इसके अलावा, डीएचएस (एमएसडी) सभी रिकॉर्ड बनाए रखेंगे।

    प्रवक्ता ने बताया कि सभी सिविल सर्जन उसी दिन दवा जारी करना सुनिश्चित करेंगे और स्टोर रोजाना दिन-रात खुला रहेगा। दवा वितरण के संबंध में प्रवक्ता ने स्पष्ट किया कि एचएमएससीएल के साथ तालमेल करके डीएचएस (एमएसडी) द्वारा स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव के अनुमोदन के बाद भविष्य में भी दवा का वितरण सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंनेे बताया कि इसके अलावा, संबंधित अस्पताल यह रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे कि केवल अनुमोदित मरीज के लिए ही दवा का उपयोग किया गया है।

    इंजेक्शन के उचित उपयोग के बारे में प्रवक्ता ने कहा कि टॉसिलिजुम्ब इंजेक्शन की मांग करने वाले संस्थानों के अस्पताल प्रशासक की यह व्यक्तिगत जिम्मेदारी होगी कि वे डॉक्टर के पर्चे की दवा का उचित उपयोग, स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ समन्वय और उचित रिकॉर्ड रखना सुनिश्चित करें ताकि बाद में ऑडिट उद्देश्य के लिए रिकॉर्ड उपलब्ध हो। उन्होंनेे बताया कि यदि इंजेक्शन टॉसिलिजुम्ब जारी कर दिया जाता है और बाद में रोगी की मृत्यु हो जाती है, तो संबंधित अस्पताल मरीज को राशि की प्रतिपूर्ति करेगा और दवा को स्टॉक में रखेगा ताकि अनुमोदन उपरांत  भविष्य में उसका उपयोग किया जा सके।

Have something to say? Post your comment

और हरियाणा समाचार

 प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ फसलों का बीमा करवाने के लिए हरियाणा सरकार ने आगामी 31 जुलाई 2021 तक समय-सीमा बढ़ा दी है

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ फसलों का बीमा करवाने के लिए हरियाणा सरकार ने आगामी 31 जुलाई 2021 तक समय-सीमा बढ़ा दी है

संत शिरोमणि सदगुरु भक्त कबीर दास की ‘वाणी’ समाज सुधार और ईश्वर भक्ति का ऐसा अद्भूत संगम है जिसे सदियों तक बार-बार दोहराया जाएगा: दुष्यंत चौटाला

संत शिरोमणि सदगुरु भक्त कबीर दास की ‘वाणी’ समाज सुधार और ईश्वर भक्ति का ऐसा अद्भूत संगम है जिसे सदियों तक बार-बार दोहराया जाएगा: दुष्यंत चौटाला

 27 जून, 2021 को प्रदेश के 13 जिलों में पोलियो उच्च जोखिम वाले क्षेत्रों में पोलियो उप-राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस (एसटीआईडी) के रूप में मनाएगा

27 जून, 2021 को प्रदेश के 13 जिलों में पोलियो उच्च जोखिम वाले क्षेत्रों में पोलियो उप-राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस (एसटीआईडी) के रूप में मनाएगा

 किसानों की आय बढ़ाने के लिए फसलों का विविधिकरण किया जाना बहुत जरूरी: जेपी दलाल

किसानों की आय बढ़ाने के लिए फसलों का विविधिकरण किया जाना बहुत जरूरी: जेपी दलाल

 सरकारी कॉलेजों के स्टॉफ को ग्रीष्मावकाश-2021 के दौरान किए गए कार्यों की एवज में अर्जित अवकाश का लाभ लेने के लिए प्रमाण देने होंगे

सरकारी कॉलेजों के स्टॉफ को ग्रीष्मावकाश-2021 के दौरान किए गए कार्यों की एवज में अर्जित अवकाश का लाभ लेने के लिए प्रमाण देने होंगे

ओलंपिक क्वालीफाई करने वाले 121 भारतीय खिलाडिय़ों में 30 हरियाणा से होना गर्व की बात: संदीप सिंह

ओलंपिक क्वालीफाई करने वाले 121 भारतीय खिलाडिय़ों में 30 हरियाणा से होना गर्व की बात: संदीप सिंह

 अंतर्राष्ट्रीय खेलों में पदक विजेता खिलाडिय़ों को खेल विभाग में नौकरी दी जाएगी ताकि उनके अनुभवों से नए खिलाडिय़ों को प्रोत्साहन मिल सके: मनोहर लाल

अंतर्राष्ट्रीय खेलों में पदक विजेता खिलाडिय़ों को खेल विभाग में नौकरी दी जाएगी ताकि उनके अनुभवों से नए खिलाडिय़ों को प्रोत्साहन मिल सके: मनोहर लाल

भारतीय जनसंघ के संस्थापक अध्यक्ष डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर चंडीगढ़ में एम.एल.ए हॉस्टल स्थित बीजेपी पार्टी ऑफिस प्रांगण में त्रिवेणी वृक्षारोपण किया गया

भारतीय जनसंघ के संस्थापक अध्यक्ष डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर चंडीगढ़ में एम.एल.ए हॉस्टल स्थित बीजेपी पार्टी ऑफिस प्रांगण में त्रिवेणी वृक्षारोपण किया गया

राज्य के 13 जिलों में आगामी 27 जून 2021 को पोलिया के लिए ‘सब-नेशनल इम्मूजेशन-डे’ मनाया जाएगा

राज्य के 13 जिलों में आगामी 27 जून 2021 को पोलिया के लिए ‘सब-नेशनल इम्मूजेशन-डे’ मनाया जाएगा

हरियाणा सरकार खरीफ-2021 के दौरान प्रदेश में दलहनी व तिलहनी फसलों को बढ़ावा दे रही है ताकि किसानों की भूमि की उर्वरा शक्ति बढऩे के साथ-साथ राज्य में खाद्य तेल की उपलब्धता सुनिश्चित हो सके

हरियाणा सरकार खरीफ-2021 के दौरान प्रदेश में दलहनी व तिलहनी फसलों को बढ़ावा दे रही है ताकि किसानों की भूमि की उर्वरा शक्ति बढऩे के साथ-साथ राज्य में खाद्य तेल की उपलब्धता सुनिश्चित हो सके