Monday, September 20, 2021
BREAKING
मुख्यमंत्री ने प्रदेश के कई क्षेत्रों में अतिवृष्टि के दृष्टिगत सभी मण्डलायुक्तों तथा जिलाधिकारियों को पूरी तत्परता से राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिए मुख्यमंत्री ने विश्वकर्मा जयन्ती पर शिल्पियों एवं अभियन्ताओं सहित प्रदेशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दीं मुख्यमंत्री का ‘एक्शन अगेन्स्ट करप्शन’ हुआ तेज मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को हरियाणा आर्बिटल रेल कोरिडोर के शिलान्यास के लिए निमंत्रित किया है सरकार ने पहली से तीसरी कक्षा तक के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को 20 सितंबर, 2021 से खोले जाने का फैसला लिया है मुख्यमंत्री का ट्वीट - मनचलों पर भी हुई कारवाई- लड़कियों ने किया धन्यवाद मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना के तहत दी जाने वाली शगुन की राशि में बढ़ोतरी सरकार ने सोनीपत के निकट कुंडली-सिंघू सीमा पर धरनारत किसानों द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग-44 पर उत्पन्न किए गए अवरोध को दूर करने के संबंध में किसानों और किसान संगठनों के साथ विचार-विमर्श करने के लिए एक राज्य स्तरीय कमेटी का गठन किया है मुख्य सचिव द्वारा राज्य में आवारा कुत्तों की समस्या के हल के लिए मुहिम और तेज करने के आदेश पंजाब में कोरोना-19 के नए वेरिएंट की पहचान करने के लिए जीनोम सीक्वेंसिंग फैसीलिटी शुरू: बलबीर सिद्धू

पंजाब

मुख्यमंत्री ने बादलों की तरफ से खेती कानूनों पर दोहरे मापदण्डों के लिए अकाली दल को घेरा

September 14, 2021 07:50 AM
कंडी क्षेत्र के विकास को बढ़ावा देने के लिए बल्लोवाल सौंखड़ी में पी.ए.यू. के  कृषि कालेज का नींव पत्थर रखा
 
बल्लोवाल सौंखड़ी (शहीद भगत सिंह नगर), 13 सितम्बर: शिरोमणि अकाली दल द्वारा काले खेती कानूनों के मुद्दे पर किसानों को धोखा देने के लिए बादल परिवार पर तीखा हमले करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि खेती कानून अकाली दल की मजऱ्ी से ही अमल में लाए गए थे और हरसिमरत कौर बादल केंद्रीय मंत्री होते हुये केंद्रीय कैबिनेट ने आर्डीनैंस पास किये थे। इसके इलावा पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की तरफ से भी खेती कानूनों की वकालत की गई परन्तु जब उनका विरोध होना शुरू हुआ तो अकाली दल ने सुर बदल लिए।
कांग्रेस को इन काले कानूनों का पहले दिन से ही इनका विरोध करने वाली पार्टी बताते हुये मुख्यमंत्री ने बताया कि उनकी सरकार ने पहला सर्वदलीय मीटिंग बुलायी और उसके बाद किसान जत्थेबंदियों के साथ भी मीटिंग की। इसके बाद राज्य सरकार ने पंजाब विधान सभा का विशेष सत्र बुलाकर इन खेती कानूनों को प्रभावहीन करने के लिए बिल पास किये।
केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुये कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि 1950 से लेकर अब तक 127 बार संविधान में संशोधन किया जा चुका है। उन्होंने आगे कहा, ’’तो फिर क्यों नहीं, एक बार और संशोधन करके किसानों को राहत देने के लिए खेती कानून रद्द किये जाएँ जो किसान सिंघू और टिकरी सरहदों पर धरना दे रहे हैं।’’ उन्होंने बताया कि पंजाब सरकार ने किसान आंदोलन के दौरान अपनी जानें गवाने वाले किसानों के परिवारों को 5 लाख रुपए प्रति किसान परिवार और परिवार के एक मैंबर को नौकरी प्रदान कर रही है।
मुख्यमंत्री ने यह बात आज बल्लोवाल सौंखड़ी में पंजाब कृषि यूनिवर्सिटी, लुधियाना के कृषि कालेज का नींव पत्थर रखने के मौके पर सभा को संबोधन करते हुये कही। इस मौके पर उन्होंने इस कालेज के अकादमिक सैशन की शुरुआत भी की जिसके अंतर्गत 1 अक्तूबर, 2021 से कक्षाएं शुरू होंगी। बीएस.सी. (कृषि) में 60 सीटें भरी गई हैं। यह पहली बार है कि पंजाब कृषि यूनिवर्सिटी, लुधियाना के कैंपस से बाहर कृषि का कोई कालेज स्थापित किया गया है।
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस कालेज के खुलने से कंडी क्षेत्र में कृषि विकसित होगी और इस क्षेत्र की फसलों और उनसे सम्बन्धित समस्याओं पर खोज करने के इलावा यहाँ के किसानों की आर्थिक स्थिति मज़बूत होगी। कालेज में इस पक्ष से भी खोज कार्य किये जाएंगे कि ज़मीन की कमी और क्षेत्र में पानी की कमी को देखते हुये कैसे पानी के सीमित साधनों का उचित प्रयोग करते हुए ज़्यादा पैदावार हासिल की जाये।
नवांशहर में एक बाग़बानी अनुसंधान केंद्र की स्थापना का ऐलान करते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने फ़सलीय विभिन्नता पक्ष से सेब की फ़सल पर भी अनुसंधान किये जाने पर ज़ोर दिया। उन्होंने यह भी ऐलान किया कि राज्य सरकार की तरफ से अब छोटे किसानों को उनकी फसलों के जंगली जानवरों से बचाव के लिए अपने खेतों के आसपास की जाती तारबन्दी के लिए सब्सिडी की राशि 60 प्रतिशत से बढ़ा कर 90 प्रतिशत करने का फ़ैसला किया गया है। उन्होंने आगे बताया कि राज्य में पाँच बाग़बानी अस्टेट भी स्थापित किये गए हैं जिससे किसानों को फलों और सब्जियों की काश्त सम्बन्धी अपेक्षित जानकारी और मदद मिल सके।
राज्यसरकार की तरफ से मंडियों के बुनियादी ढांचे और प्रोसेसिंग सुविधाओं को ओर सुधारने के लिए दो नये मेगा फूड पार्क स्थापित किये गए और इस के इलावा कृषि मंडीकरन नया उद्यम, खोज और चौकसी केंद्र भी स्थापित किया गया है जिससे उत्पादन में मदद मिल सके और राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर माँग और कीमतों को देखते हुए बाज़ारी योजनाबंदी की योजना बनाई जा सके।
अन्य मामलों संबंधी बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बीते साढ़े चार सालों के दौरान राज्य सरकार की निवेशकों और उद्योग समर्थकी नीतियों के कारण राज्य में 91000 करोड़ रुपए का निवेश हुआ है जबकि नौजवानों को 20 लाख नौकरियाँ हासिल हुई हैं।
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने भूमिहीन काश्तकारों और खेती कामगारों के लिए लाई कजऱ् माफी स्कीम के अंतर्गत शहीद भगत सिंह नगर जि़ले के 31,066 लाभार्थियों में से 25 को संकेतक तौर पर कजऱ् माफी के चैक बाँटे। जिले के कुल लाभार्थियों का कुल 64.61 करोड़ रुपए का कजऱ् माफ किया गया है।
इस मौके पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री की तारीफ़ करते हुये श्री आनन्दपुर साहिब से लोक सभा मैंबर मनीष तिवाड़ी ने कहा कि केंद्र सरकार की तरफ से राज्य का ग्रामीण विकास फंड (आर.डी.एफ.) और जी.एस.टी. मुआवज़ा रोक कर राज्य के विकास की राह में रोड़े अटकाए जाने के बावजूद कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने बड़े योग्य ढंग से राज्य का नेतृत्व किया है और ख़ास कर कोविड -19 के दिनों के दौरान उनका नेतृत्व सराहनीय रहा है। इसके इलावा उन्होंने सरहदी क्षेत्र में पाकिस्तान की तरफ से हथियारों और नशों की तस्करी को रोकने के लिए और इन इलाकों की सुरक्षा को मज़बूत करने के लिए भी बड़े प्रयास किये हैं। उन्होंने माँग की कि कंडी केनाल के दूसरे फेज़ का फिर से निर्माण और फिर जुगतबंदी की जाये और इसके अलावा एक वुड्ड पार्क और कॉफी प्लांटेशन की संभावनाएं भी तलाश की जाएँ।
लोक निर्माण और शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने संबोधन करते हुये कैप्टन अमरिन्दर सिंह को किसानों का मसीहा कहते हुये कहा कि मुख्यमंत्री के दिल में किसानी के प्रति दर्द है जो कि इसी बात से साफ़ ज़ाहिर हो जाता है कि यह कैप्टन अमरिन्दर सिंह ही थे जिन्होंने बी.टी. कॉटन के बीज लाकर किसानों की आमदन में विस्तार करने का प्रयास किया था।
इस मौके पर बलाचौर से विधायक चौधरी दर्शन लाल मंगूपुर ने मुख्यमंत्री का इस कंडी क्षेत्र को कालेज रूपी तोहफ़ा देने के लिए धन्यवाद करते हुये कहा कि मुख्यमंत्री ने इस क्षेत्र के और विकास कामों के लिए कभी पैसो की कमी नहीं आने दी। राज्य सरकार की तरफ से पंजाब के विकास के लिए किये अथाह कामों के विवरण देते हुये उन्होंने यह बात दृढ़ इरादे से कही कि 2022 में कांग्रेस पार्टी कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व में फिर सरकार बनाऐगी।
अतिरिक्त मुख्य सचिव विकास और पंजाब कृषि यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर अनिरुद्ध तिवारी ने संबोधन करते हुये कहा कि बल्लोवाल सौंखड़ी का क्षेत्रीय अनुसंधान केंद्र कई फसलों जैसे कि मक्का, गेहूँ और तेल बीज की 35 किस्मों और आंवला, अमरूद और नाशपाती जैसे फलों की कई किस्मों सम्बन्धी सराहनीय शोध कार्य कर रहा है।
पंजाब कृषि यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार रजिन्दर सिंह ने सभी मेहमानों और आदरणियों का धन्यवाद किया।
इस मौके पर विधायक अंगद सिंह, जि़ला योजना बोर्ड के चेयरमैन सतबीर सिंह, सहकारी सभाओं के रजिस्ट्रार विकास गर्ग और क्षेत्रीय अनुसंधान केंद्र बल्लोवाल सौंखड़ी के डायरैक्टर डा. मनमोहनजीत सिंह भी उपस्थित थे।

 

Have something to say? Post your comment

और पंजाब समाचार

मुख्य सचिव द्वारा राज्य में आवारा कुत्तों की समस्या के हल के लिए मुहिम और तेज करने के आदेश

मुख्य सचिव द्वारा राज्य में आवारा कुत्तों की समस्या के हल के लिए मुहिम और तेज करने के आदेश

पंजाब में कोरोना-19 के नए वेरिएंट की पहचान करने के लिए जीनोम सीक्वेंसिंग फैसीलिटी शुरू: बलबीर सिद्धू

पंजाब में कोरोना-19 के नए वेरिएंट की पहचान करने के लिए जीनोम सीक्वेंसिंग फैसीलिटी शुरू: बलबीर सिद्धू

सामाजिक सुरक्षा और महिला एवं बाल विकास विभाग को और मज़बूत करने के लिए किये गए कई प्रयास -  अरुणा चौधरी

सामाजिक सुरक्षा और महिला एवं बाल विकास विभाग को और मज़बूत करने के लिए किये गए कई प्रयास - अरुणा चौधरी

ईवीएम-वीवीपैट की पहली बार की चैकिंग से सम्बन्धित एसओपीज़ संबंधी जानकारी देने के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सी.ई.ओ./डी.ई.ओज़ के साथ बैठक

ईवीएम-वीवीपैट की पहली बार की चैकिंग से सम्बन्धित एसओपीज़ संबंधी जानकारी देने के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सी.ई.ओ./डी.ई.ओज़ के साथ बैठक

तेल टैंकर को आई.ई.डी. टिफिन बम से उड़ाने की कोशिश के मामले में 4 और व्यक्तियों की गिरफ़्तारी होने से मुख्यमंत्री द्वारा राज्य में हाई अलर्ट के आदेश

तेल टैंकर को आई.ई.डी. टिफिन बम से उड़ाने की कोशिश के मामले में 4 और व्यक्तियों की गिरफ़्तारी होने से मुख्यमंत्री द्वारा राज्य में हाई अलर्ट के आदेश

किसानों के संकट संबंधी आपको बोलने का नैतिक हक भी नहीं, आप संकट को शुरुआत में ही आसानी से टाल सकते थे: मुख्यमंत्री ने हरसिमरत बादल की बयानबाज़ी का दिया सख़्त जवाब

किसानों के संकट संबंधी आपको बोलने का नैतिक हक भी नहीं, आप संकट को शुरुआत में ही आसानी से टाल सकते थे: मुख्यमंत्री ने हरसिमरत बादल की बयानबाज़ी का दिया सख़्त जवाब

पंजाब जल्द शुरू करेगा एक और विशाल भर्ती मुहिम: मुख्य सचिव

पंजाब जल्द शुरू करेगा एक और विशाल भर्ती मुहिम: मुख्य सचिव

डॉ. अन्देश कंग ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के डायरैक्टर के तौर पर पद संभाला

डॉ. अन्देश कंग ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के डायरैक्टर के तौर पर पद संभाला

स्वास्थ्य मंत्री ने मोगा में माई दौलतां जच्चा-बच्चा अस्पताल लोगों को किया समर्पित

स्वास्थ्य मंत्री ने मोगा में माई दौलतां जच्चा-बच्चा अस्पताल लोगों को किया समर्पित

पीएसआईडीसी के बोर्ड ऑफ डायरैक्टरज़ ने विभिन्न स्कीमों की प्रगति का लिया जायजा

पीएसआईडीसी के बोर्ड ऑफ डायरैक्टरज़ ने विभिन्न स्कीमों की प्रगति का लिया जायजा