Friday, June 25, 2021
BREAKING
आप नेता चंदर मुखी शर्मा ने मुफ्त पौधारोपण अभियान शुरू किया; 1.11 लाख पौधे बांटे जाएंगे प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ फसलों का बीमा करवाने के लिए हरियाणा सरकार ने आगामी 31 जुलाई 2021 तक समय-सीमा बढ़ा दी है संत शिरोमणि सदगुरु भक्त कबीर दास की ‘वाणी’ समाज सुधार और ईश्वर भक्ति का ऐसा अद्भूत संगम है जिसे सदियों तक बार-बार दोहराया जाएगा: दुष्यंत चौटाला 27 जून, 2021 को प्रदेश के 13 जिलों में पोलियो उच्च जोखिम वाले क्षेत्रों में पोलियो उप-राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस (एसटीआईडी) के रूप में मनाएगा किसानों की आय बढ़ाने के लिए फसलों का विविधिकरण किया जाना बहुत जरूरी: जेपी दलाल सरकारी कॉलेजों के स्टॉफ को ग्रीष्मावकाश-2021 के दौरान किए गए कार्यों की एवज में अर्जित अवकाश का लाभ लेने के लिए प्रमाण देने होंगे ओलंपिक क्वालीफाई करने वाले 121 भारतीय खिलाडिय़ों में 30 हरियाणा से होना गर्व की बात: संदीप सिंह मुख्यमंत्री द्वारा भगत कबीर चेयर की स्थापना करने और भगत कबीर भवन के लिए 10 करोड़ रुपए का ऐलान मुख्यमंत्री द्वारा कर्मचारियों की शिकायतों के निपटारे के लिए मंत्रियों की निगरान कमेटी का गठन मुख्य सचिव द्वारा कोविड टीकाकरण से वंचित स्वास्थ्य कर्मियों और पारिवारिक सदस्यों को वैक्सीन लगाने के आदेश

वार्षिक राशिफल

1. मेष (वर्ष 2021)

May 06, 2021 01:04 PM

राशि शुभ दिनाँक: 2,3,8,11,17,18,20,25,28
राशि प्रतिकूल दिनाँक: 1,4,6,13,22,23,26,30
स्वास्थ्य: मन: स्थिति अशान्त होने के कारण परेशानियाँ उत्पन्न होंगी। सकारात्मक विचारों वाले वातावरण में रहें। इस वर्ष आपकी राशि से द्वितीय भाव पर राहू का प्रभाव रहेगा। जिसके कारण मौसमी बीमारियों की चपेट में आ सकते हैं। यदि आपको पहले से कोई बीमारी नहीं है तो इस वर्ष आपको ज्यादा परेशान नहीं होना चाहिये। चोंट-चपेट सम्बन्धी पारेशानी हो सकती हैं। वर्ष की शुरूआत में ही बवासीर के रोगियों को सर्जरी करानी पड़ सकती है। स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें। जून और दिसम्बर के महीने में सावधानी रखें। पित्त विकार जन्म ले सकते हैं। मार्च-अप्रैल में आपको विशेष सतर्कता रखनी होगी।
आर्थिक स्थिति: इस वर्ष आपको पूंजी निवेश से बेहतरीन लाभ होगा। नये व्यवसाय में निवेश करना चाह रहे हैं तो आपको कुछ ध्यान देना पड़ेगा। गलत मार्गों से धन अर्जित न करें। आपको नित्य योगाभ्यास करना चाहिये। 22 फरवरी तक आपको कुछ सतर्क रहना चाहिये। सम्पत्ति के क्रय-विक्रय सम्बन्धित मामलों में धन लाभ होने के प्रबल योग हैं। नया मकान खरीदने का विचार बना सकते हैं। जोखिम भरे निवेशों से दूरी बनाये रखें। सट्टे और शेयर बाजार में घाटा हो सकता है।
कौटुम्बिक एवं सामाजिक: पूरे वर्ष आपके द्वितीय भाव पर राहू का भ्रमण रहेगा। जिसके कारण परिजनों से वाद-विवाद और नोंक-झोंक जैसी समस्या आ सकती है। जून के आसपास कुछ नकारात्मक सूचना भी मिल सकती है। वैसे आपकी सामाजिक स्थिति बहुत ही अच्छी रहेगी। अपने व्यवहार में विनम्रता रखें। भाई-बहनों से सम्बन्ध मधुर रहेंगे। माता-पिता आपकी हर बात का समर्थन करेंगे। परिवार में किसी सदस्य के विवाह के योग बन रहे हैं।
प्रणय जीवन: जीवनसाथी के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। उनकी भावनाओं का अनादर न करें। विवाहेत्तर सम्बन्धों में वृद्धि हो सकती है। युवा प्रेमी विवाह के बन्धन में बन्ध सकते हैं। वर्ष की शुरूआत में दाम्पत्य जीवन में परस्पर विश्वास की कुछ कमी हो सकती है। वर्ष के अन्त में कहीं घूमने-फिरने का आयोजन कर सकते हैं। अप्रैल के बाद फैमिली प्लानिंग का भी विचार बनायेंगे। अक्टूबर-नवम्बर में रिश्तों में कुछ न्यूनता रहेगी। आपकी तरफ से आक्रामकता न हो इसका ध्यान रखें।
विद्यार्थी जीवन: फाइनेंस से जुड़े विद्यार्थियों को इस वर्ष बेहतरीन सफलता मिल सकती है। साक्षात्कार और प्रतियोगी परीक्षा में अच्छे परिणाम मिलेंगे। उच्च शिक्षा के लिये काफी उत्सुक रहेंगे। छोटी कक्षा में पढ़ रहे विद्यार्थियों को पढ़ाई में मन लगाना होगा। भ्रमित होने से बचना चाहिये। उच्च शिक्षण संस्थानों में प्रवेश मिल सकता है। विदेश जाने के योग बन रहे हैं। विद्यार्थियों को लक्ष्य प्राप्त करने के लिये कड़ी मेहनत करनी होगी। आयुर्वेद और होम्योपैथी के प्रोफेशनल्स को शानदार सफलता मिलेगी। विनिर्माण प्रोजेक्ट्स में गति आयेगी।
समाधान: मंगलवार के दिन हनुमान जी को राम नामी चोला चढ़ायें और नित्य हनुमान चालीसा का पाठ करें।
राशि स्वामी: मंगल, राशि नामाक्षर: अ, ल, इ, अ, छ, ए, नक्षत्र चरण नामाक्षर: चु, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ, आराध्य भगवान: श्री हनुमान जी, भाग्यशील रंग: लाल, भाग्यशील अंक: 1, 8, अनुकूल दिशा: पूर्व, राशि धातु: तांबा, सोना, राशि शुभ रत्न: मूंगा, राशि अनुकूल रत्न:
मूंगा, पुखराज तथा माणिक्य, राशि अनुकूल वार: मंगलवार, बृहस्पतिवार तथा रविवार, राशि स्वभाव: चर, राशि तत्व: अग्नि और राशि प्रकृति: पित्त।

Have something to say? Post your comment