Friday, June 21, 2024
BREAKING
पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ने डब्लयूएचओ- ऐमपावर पर तीन दिवसीय राष्ट्रीय वर्कशाप का किया उद्घाटन तलाशी अभियान- चौथा दिन: पंजाब पुलिस की टीमों द्वारा हर जि़ले में नशों के 10 प्रमुख हॉटस्पॉट्स पर छापेमारी शिक्षा जगत में भारत के पुरातन गौरव को पुनः स्थापित करेगा नालंदा विश्वविद्यालय का आधुनिक स्वरूपः सीएम योगी योगी सरकार ने की ‘मेरी बस, मेरी सड़क’ पहल की शुरुआत 'कैच द रेन' अभियान को तेजी से पूरा करने में जुटी योगी सरकार उत्तर कोरिया में 24 साल बाद पहुंचे पुतिन, एयरपोर्ट पर आगवानी के लिए खुद खड़े थे तानाशाह किम जोंग, एक ही कार में गए साथ दैनिक राशिफल 20 जून, 2024 Putin-Kim meeting- 24 सालों में व्लादिमीर पुतिन पहली बार जाएंगे उत्तर कोरिया PM Modi Varanasi Visit: पीएम आज जारी करेंगे सम्मान निधि की 17वीं किस्त, काशी में किसान सम्मेलन में लेंगे भाग दैनिक राशिफल 19 जून, 2024

चंडीगढ़

रिपोर्ट में दावा- यूक्रेन युद्ध रोकने के लिए पुतिन तैयार:चाहते हैं कि दोनों देशों की सीमाएं मौजूदा हिसाब से ही रहे

May 25, 2024 12:44 PM

सिटी दर्पण

नई दिल्ली, 24 मईः रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन युद्ध रोकने के लिए तैयार हो गए हैं। लेकिन इसके लिए उन्होंने कुछ शर्तें रखी हैं। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने रूसी सूत्रों के हवाले से दावा किया है कि पुतिन चाहते हैं कि दोनों देशों की सीमा अब मौजूदा हिसाब से ही रहे। यानी कि रूस ने यूक्रेन के जिन इलाकों पर कब्जा कर लिया है वे अब उनका ही हिस्सा रहे।

पुतिन युद्ध रोकने को लेकर तैयार हैं ऐसी रिपोर्टें कई महीनों से चल रही हैं लेकिन ये रिपोर्ट उस समय आई है कि जब मॉस्को ने उत्तर-पूर्वी यूक्रेन के खार्किव क्षेत्र के खिलाफ एक नया आक्रमण शुरू किया है।

पुतिन पहले भी कई बार युद्ध समाप्त करने के संकेत दे चुके हैं।
पुतिन पहले भी कई बार युद्ध समाप्त करने के संकेत दे चुके हैं।

रूस के पास क्रीमिया तक जमीनी रास्ता

पुतिन के साथ काम कर चुके एक शख्स ने एजेंसी से कहा कि पुतिन जब तक चाहें लड़ सकते हैं, लेकिन पुतिन युद्ध विराम के लिए भी तैयार हैं। एक अन्य सूत्र ने बताया कि अब रूस के पास क्रीमिया तक जमीनी रास्ते तक की पहुंच है।

मौजूदा बॉर्डरलाइन को लेकर यदि सहमति बन जाती है तो रूसी इसे अपनी जीत समझेंगे। वे ये कह सकते हैं कि पश्चिम के हमले के बावजूद उन्होंने अपनी संप्रभुता बनाए रखी। क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने रॉयटर्स से कहा कि पुतिन ने बार-बार ये जताया है कि वे बातचीत के लिए तैयार है और लंबे वक्त तक युद्ध नहीं चाहते हैं।

हालांकि, यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की, पुतिन की शर्तों पर किसी भी शांति समझौते को स्वीकार करना नहीं चाहते हैं। उन्होंने रूसी सेना के द्वारा कब्जा किए गए यूक्रेनी इलाकों को फिर से हासिल करने की कसम खा रखी है। इसमें क्रीमिया भी शामिल है जिस पर रूस ने 2014 में कब्जा कर लिया था।

इसी महीने की शुरुआत में रूस ने खार्किव में लड़ाई तेज कर दी थी। 10 मई को रूस की सेना खार्किव में एक किलोमीटर तक अंदर घुस गई। इसके बाद जेलेंस्की ने सेना से यूक्रेनी लोगों को बाहर निकालने का आदेश दिया।

खार्किव रूस की सेना के लिए इसलिए अहम है क्योंकि 2022 में उन्हें यहां हार मिली थी। (फाइल)
खार्किव रूस की सेना के लिए इसलिए अहम है क्योंकि 2022 में उन्हें यहां हार मिली थी। (फाइल)

हर हाल में खार्किव को जीतना चाहता है रूस

साथ ही उन्होंने सभी रिजर्व सैनिकों को वापस बुला लिया है, ताकि इन्हें खार्किव में तैनात किया जा सके। खार्किव रूस की सेना के लिए इसलिए अहम है क्योंकि 2022 में उन्हें यहां हार का सामना करना पड़ा था। 2022 में खार्किव में मिली हार के बाद रूस का प्लान है की वो हर हाल में खार्किव पर जीत हासिल करे।

रूस-यूक्रेन के बीच 2 साल से ज्यादा समय से जंग जारी
24 फरवरी 2024 को दो साल पूरे रूस-यूक्रेन जंग को हो गए थे। 2 साल पहले इसी दिन रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन पर हमला किया था। पुतिन ने उस समय इसे मिलिट्री ऑपरेशन बताया था। इस हमले में अब तक 40 लाख से ज्यादा यूक्रेनी नागरिकों को देश छोड़ना पड़ा है। ये लोग अब अन्य देशों में रिफ्यूजी की तरह रह रहे हैं। 65 लाख से ज्यादा यूक्रेनी देश में ही बेघर हो गए हैं।

यूक्रेन के 10 हजार आम नागरिकों की मौत हुई है, जबकि 18,500 लोग घायल हुए हैं। यूक्रेन का दावा है कि रूस 3.92 लाख सैनिक गंवा चुका है। इस बीच अमेरिका ने रूस की 500 रूसी कंपनियों पर प्रतिबंध लगा दिए था। इधर, रूस ने भी यूरोपियन यूनियन (EU) की कई कंपनियों पर प्रतिबंध लगा दिए थे।

Have something to say? Post your comment

और चंडीगढ़ समाचार

PGI, CHANDIGARH* *CCRYN-COLLABORATIVE CENTRE FOR MIND BODY INTERVENTION THROUGH YOGA

PGI, CHANDIGARH* *CCRYN-COLLABORATIVE CENTRE FOR MIND BODY INTERVENTION THROUGH YOGA

Haj 2024: हज के दौरान अब तक 900 से ज्यादा लोगों की मौत, मरने वालों में 68 भारतीय भी शामिल, दुनिया भर में घिरी सऊदी सरकार

Haj 2024: हज के दौरान अब तक 900 से ज्यादा लोगों की मौत, मरने वालों में 68 भारतीय भी शामिल, दुनिया भर में घिरी सऊदी सरकार

UGC NET 2024 Cancelled: यूजीसी नेट परीक्षा रद्द

UGC NET 2024 Cancelled: यूजीसी नेट परीक्षा रद्द

Tamil Nadu: तमिलनाडु: कल्लाकुरिची में अवैध शराब पीने से 25 लोगों की मौत; सीएम एमके स्टालिन ने सीबी-सीआईडी जांच के आदेश दिए

Tamil Nadu: तमिलनाडु: कल्लाकुरिची में अवैध शराब पीने से 25 लोगों की मौत; सीएम एमके स्टालिन ने सीबी-सीआईडी जांच के आदेश दिए

Weather Change : पहाड़ से लेकर मैदान तक बदला मौसम का मिजाज, दिल्ली-एनसीआर को मिली जानलेवा गर्मी से राहत

Weather Change : पहाड़ से लेकर मैदान तक बदला मौसम का मिजाज, दिल्ली-एनसीआर को मिली जानलेवा गर्मी से राहत

उत्तर कोरिया में 24 साल बाद पहुंचे पुतिन, एयरपोर्ट पर आगवानी के लिए खुद खड़े थे तानाशाह किम जोंग, एक ही कार में गए साथ

उत्तर कोरिया में 24 साल बाद पहुंचे पुतिन, एयरपोर्ट पर आगवानी के लिए खुद खड़े थे तानाशाह किम जोंग, एक ही कार में गए साथ

तीसरी बार PM बनने के बाद नरेंद्र मोदी का पहला बिहार दौरा, अंतरराष्ट्रीय नालंदा विश्वविद्यालय का करेंगे उद्घाटन; तैयारियां तेज

तीसरी बार PM बनने के बाद नरेंद्र मोदी का पहला बिहार दौरा, अंतरराष्ट्रीय नालंदा विश्वविद्यालय का करेंगे उद्घाटन; तैयारियां तेज

लोकसभा स्पीकर के लिए राजनाथ सिंह के घर हुई मीटिंग, इन नामों की चर्चा

लोकसभा स्पीकर के लिए राजनाथ सिंह के घर हुई मीटिंग, इन नामों की चर्चा

दावा-4 रातों से सोया नहीं था मालगाड़ी का लोको पायलट:नियम लगातार सिर्फ 2 रात ड्यूटी का; रंगापानी के स्टेशन मास्टर की जांच की मांग

दावा-4 रातों से सोया नहीं था मालगाड़ी का लोको पायलट:नियम लगातार सिर्फ 2 रात ड्यूटी का; रंगापानी के स्टेशन मास्टर की जांच की मांग

Putin-Kim meeting- 24 सालों में व्लादिमीर पुतिन पहली बार जाएंगे उत्तर कोरिया

Putin-Kim meeting- 24 सालों में व्लादिमीर पुतिन पहली बार जाएंगे उत्तर कोरिया