Friday, April 12, 2024
BREAKING
क्या इजरायल पर न्यूक्लियर अटैक कर सकता है ईरान? मिडिल ईस्ट तक पहुंची गाजा युद्ध की आग अरविंद केजरीवाल को एक और झटका, विजिलेंस विभाग ने दिल्ली CM के निजी सचिव को किया टर्मिनेट मुहब्बत की निशानी ताज के साये में ईद-उल-फितर के मौके पर झुके सजदे में हजारों सिर! हरियाणा के महेंद्रगढ़ में स्कूल बस पलटने से 6 बच्चों की मौत, लगभग 20 घायल, बस हादसे पर PM ने जताया दुख, बोले-जिन्होंने बच्चों को खोया…हरियाणा सरकार ने दिया सख्‍त आदेश ईरान के अंदर घुसकर करेंगे हमला... इजरायल के विदेश मंत्री ने दी खुली धमकी, अली खामेनेई को दिया करारा जवाब BJP Candidates List: किरण खेर, रीता बहुगुणा का टिकट कटा, आसनसोल से अहलुवालिया उम्मीदवार, बीजेपी की एक और लिस्ट जारी तिहाड़ जेल में CM अरविंद केजरीवाल का शुगर लेवल बिगड़ा ईदुल-फितर आज:ईदगाहपर सुबह 8 बजे नमाज दैनिक राशिफल 12 अप्रैल, 2024 दैनिक राशिफल 11 अप्रैल, 2024

पंजाब

पंजाब साईबर क्राइम डिवीजऩ ने साईबर वित्तीय धोखाधड़ी को रोकने के लिए बैंकों को पुलिस के साथ तालमेल करने के लिए नोडल अफ़सर नियुक्त करने के लिए कहा

February 25, 2024 10:56 PM
पंजाब पुलिस मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान की सोच के अनुसार पंजाब को सुरक्षित राज्य बनाने के लिए प्रतिबद्ध  
एडीजीपी साईबर क्राइम ने प्रमुख बैंकों के साथ की मीटिंग, हेल्पलाइन 1930 संबंधी जागरूकता फैलाने के लिए सहयोग की माँग की  
साईबर क्राइम डिवीजऩ ने साईबर हेल्पलाइन 1930 पर शिकायतें आने के उपरांत 20 करोड़ रुपए किये फ्रीज 
बैंक अधिकारियों द्वारा लॉ एंफोर्समैंट एजेंसी को पूरा सहयोग देने का आश्वासन
चंडीगढ़, 25 फरवरी:
मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के निर्देशों के अनुसार राज्य में साईबर वित्तीय धोखाधड़ी को रोकने के लिए पुलिस और बैंक अधिकारियों के दरमियान तालमेल बढ़ाने के लिए, पंजाब पुलिस की साईबर क्राइम डिविजऩ ने 1930 साईबर हेल्पलाइन पर आने वाली शिकायतों के निपटारे के लिए बैंकों को अलग नोडल अफ़सर नियुक्त करने के लिए कहा है, जिससे बैंक खातों को पहल के आधार पर ब्लॉक करना और संदिग्ध बैंक खातों के विवरण समय पर मुहैया करवाना सुनिश्चित बनाया जा सके।  
यह फ़ैसला एडीजीपी साईबर क्राइम वी. नीरजा द्वारा सी.एफ.सी.एफ.आर.एम.एस. पोर्टल पर दर्ज शिकायतों सम्बन्धी बैंकों द्वारा जवाब देने के समय को घटाने के लिए अलग-अलग बैंकों के प्रतिनिधियों के साथ की गई तालमेल बैठक के दौरान लिया गया।  
 यह मीटिंग डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी) पंजाब गौरव यादव के दिशा-निर्देशों पर करवाई गई थी, जिसमें स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, एच.डी.एफ.सी. बैंक, आई.सी.आई.सी.आई. बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, ऐक्सिस बैंक, आर.बी.एल. बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ोदा, यैस बैंक, इंडियन बैंक और आई.डी.एफ.सी. फस्र्ट बैंक समेत 11 प्रमुख बैंकों के 17 अधिकारियों ने भाग लिया। मीटिंग में डीआईजी साईबर क्राइम नीलांबरी जगदले और डीएसपी साईबर क्राइम प्रभजोत कौर भी उपस्थित थे।  
 एडीजीपी वी. नीरजा ने कहा कि साईबर हेल्पलाइन 1930 एक सिटिजन फाइनेंशियल साईबर फ्रॉड रिपोर्टिंग एंड मैनेजमेंट सिस्टम (सीएफसीएफआरएमएस) है, जिसकी मदद से साईबर वित्तीय धोखाधड़ी के पीडि़तों द्वारा इस हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज होने के तुरंत बाद मुलजि़मों/संदिग्ध व्यक्तियों के खातों में पीडि़तों द्वारा जमा करवाए गए पैसों को फ्रीज कर दिया जाता है।  
 उन्होंने बताया कि मीटिंग के दौरान साईबर वित्तीय धोखाधड़ी से निपटने के लिए दरपेश चुनौतियों और साईबर क्राइम हेल्पलाइन 1930 के द्वारा दर्ज शिकायतों के निपटारे की प्रक्रिया को तेज करने संबंधी विस्तारपूर्वक चर्चा की गई।  
 उन्होंने कहा कि बैंकों को साईबर वित्तीय धोखाधड़ी संबंधी जागरूकता मुहिम चलाने की अपील की गई, जिससे लोगों को 1930 हेल्पलाइन नंबर पर ऐसी साईबर धोखाधडिय़ों की रिपोर्ट करने संबंधी जागरूक किया जा सके। उन्होंने आगे कहा कि बैंकों को 1930 हेल्पलाइन नंबर को बैंकों के अंदर और बाहर फ्लैक्स बोर्डों या पोस्टरों पर प्रदर्शित करने के साथ-साथ अपनी अधिकृत वैबसाईटों पर दिखाने के लिए भी कहा गया है।  
एडीजीपी ने कहा कि बैंकों को समयबद्ध ढंग से संदिग्ध बैंक खातों संबंधी यूपीआई/ इंटरनैट बैंकिंग लॉग, बैंक स्टेटमैंट्स, एटीएम फुटेज और केवाईसी दस्तावेज़ मुहैया करवा कर ऐसे मामलों की जांच के दौरान पंजाब पुलिस के साथ सहयोग करने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा कि नकली खाते खोलने से रोकने के लिए बैंकों को नये बैंक खाते खोलने के समय घरों के पतों की व्यक्तिगत तौर पर जाँच करने के लिए भी निर्देश दिए गए हैं।  
 उन्होंने बताया कि अब तक 1930 हेल्पलाइन के द्वारा संदिग्ध बैंक खातों में लगभग 20 करोड़ रुपए फ्रीज किए जा चुके हैं, जिसमें से लगभग 1.5 करोड़ रुपए राज्य कानूनी सेवा अथॉरिटी, पंजाब की मदद से पीडि़तों को वापस किये जा चुके हैं।  
 बताने योग्य है कि बैंकों के अधिकारियों द्वारा भोले-भाले लोगों को वित्तीय धोखाधड़ी से बचाने के लिए लॉ एंफोर्समैंट एजेंसी को पूरा सहयोग देने और मामलों की जांच के दौरान मदद का आश्वासन दिया गया।

Have something to say? Post your comment

और पंजाब समाचार

पहली अप्रैल से गेहूँ की खरीद के सभी प्रबंध मुकम्मल: अनुराग वर्मा

पहली अप्रैल से गेहूँ की खरीद के सभी प्रबंध मुकम्मल: अनुराग वर्मा

डीजीपी पंजाब ने रेलवे के लिए राज्य स्तरीय सुरक्षा समिति की समन्वय बैठक की अध्यक्षता की

डीजीपी पंजाब ने रेलवे के लिए राज्य स्तरीय सुरक्षा समिति की समन्वय बैठक की अध्यक्षता की

विजीलेंस ब्यूरो ने जमीन की निशानदेही के लिए 5200 रुपये की रिश्वत लेते हुए पटवारी को किया गिरफ्तार

विजीलेंस ब्यूरो ने जमीन की निशानदेही के लिए 5200 रुपये की रिश्वत लेते हुए पटवारी को किया गिरफ्तार

पंजाब भर में लगाई गई राष्ट्रीय लोक अदालत- 403 बैंचों ने की 3. 55 लाख केसों की सुनवाई

पंजाब भर में लगाई गई राष्ट्रीय लोक अदालत- 403 बैंचों ने की 3. 55 लाख केसों की सुनवाई

पल्लेदारों की समस्याओं के हल के लिए कमेटी का गठन

पल्लेदारों की समस्याओं के हल के लिए कमेटी का गठन

2024- 25 के लिए पंजाब की नई आबकारी नीति का उदेश्य राजस्व लक्ष्यों की नयी ऊँचाईयां हासिल करना -हरपाल सिंह चीमा

2024- 25 के लिए पंजाब की नई आबकारी नीति का उदेश्य राजस्व लक्ष्यों की नयी ऊँचाईयां हासिल करना -हरपाल सिंह चीमा

मुख्यमंत्री ने दी संगरूरवासियों को 869 करोड़ रुपये की सौगात

मुख्यमंत्री ने दी संगरूरवासियों को 869 करोड़ रुपये की सौगात

पीएसआईईसी के भूखंड गलत तरीके से आवंटित करने वाले छह अधिकारियों के खिलाफ विजिलेंस ब्यूरो द्वारा केस दर्ज

पीएसआईईसी के भूखंड गलत तरीके से आवंटित करने वाले छह अधिकारियों के खिलाफ विजिलेंस ब्यूरो द्वारा केस दर्ज

मुख्यमंत्री के नेतृत्व में मंत्रालय द्वारा दो दशक बाद निचली अदालतों के 3842 अस्थायी पदों को स्थायी पदों में बदलने को हरी झंडी

मुख्यमंत्री के नेतृत्व में मंत्रालय द्वारा दो दशक बाद निचली अदालतों के 3842 अस्थायी पदों को स्थायी पदों में बदलने को हरी झंडी

लोक सभा चुनाव 2024: केंद्रीय बलों की 25 कंपनियां पंजाब पहुँची

लोक सभा चुनाव 2024: केंद्रीय बलों की 25 कंपनियां पंजाब पहुँची